मजदूरों के रोटी के लिए मनरेगा योजनाओ को शुरू करके सरकार ने दी रोजगार

चोपन सोनभद्र  सब रास्ता बंद हो गया था कमाने का लेकिन सरकार ने थोड़ा रुक कर कोई न कोई रास्ता निकाल ही दिया आपको बताते चलें कि इस वैश्विक महामारी के रूप में फैला कोरोना वायरस ने एक तरफ जहां पूरी दुनिया को लाचार बना दिया है वहीं भारत जैसे मिश्रित अर्थव्यवस्था वाले देश भी इसके चपेट में आने से बच नहीं सके हैं फिलहाल देश व प्रदेश के सरकारों ने मिलकर ऐसी  कार्ययोजना बनाई है जिससे लोगों को थोड़ी राहत मिल सके सोनभद्र जैसे पिछड़े जिलों में जहां काफी संख्या में ऐसे लोग निवास करते हैं जो दैनिक मजदूरी करके ही अपना तथा अपने परिवार का पेट पालन करते हैं उन लोगों के लिए सरकार ने मनरेगा जैसी योजनाओं को शुरू करके ग्रामीण श्रमिकों को संजीवनी देने का काम किया है जनपद सोनभद्र में हांलाकि अभी तक कोरोनावायरस के एक भी पॉजिटिव केस नहीं मिले हैं यह बहुत बड़ी राहत देने वाली बात है जिसके बाद शासन द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों के विभिन्न ग्राम पंचायतों में मनरेगा का काम शुरू करा दिया गया है जिसके तहत चोपन विकासखंड के रेणुकापार के गोठानी ग्राम पंचायत में बंधी निर्माण का कार्य शुरू करा दिया गया है जहां सैकड़ों की संख्या में श्रमिक बंधी के निर्माण कार्य में जुट गए हैं ग्राम प्रधान धर्मेंद्र सिंह द्वारा श्रमिकों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखा जा रहा है साथ ही उनके सुरक्षा का भी पूरा ख्याल रखा जा रहा है कार्यस्थल पर गर्म पानी व हाथ धोने के साबुन तथा सैनिटाइजर की भी उपलब्धता सुनिश्चित कराई गई है प्रत्येक मजदूरों को मास्क का अथवा गमछा की व्यवस्था भी कराई गई है ग्राम प्रधान ने बताया कि विकासखंड अधिकारी के द्वारा जो भी निर्धारित लक्ष्य दिया गया है उसको समय से पूरा करा लिया जाएगा साथ ही यह पूरा ध्यान रखा जाएगा कि मजदूरों को सप्ताहांत तक ही मजदूरी का पैसा उनके खाते में भेजा जा सके बताते चलें कि चोपन विकासखंड के ग्रामीण क्षेत्रों में खेती का काम लगभग पूरा हो चुका है कृषक गण फसलों की कटाई मड़ाई करने के पश्चात खेत खलिहान से खाली हो चुके हैं लेकिन मजदूर वर्ग लॉक डाउन की वजह से काम करने के लिए गांव से बाहर नहीं जा पा रहे हैं ऐसे में मनरेगा का काम पाकर मजदूर काफी खुश है उनका कहना है कि हम लोगों के सामने भूखमरी की स्थिति आ चुकी थी लेकिन सरकार द्वारा गांव में विकास कार्य खोलने की वजह से हम लोगों को दैनिक आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए एक सहारा मिल गया है ग्राम प्रधान ने यह भी बताया कि और मजदूरों की मजदूरी बढ़कर ₹201 हो गई है प्रथम पाली का कामस 6:00 बजे से 11:00 बजे तक तथा दूसरे पाली का काम 2:00 बजे से 6:00 बजे तक कराया जा रहा है।

सोनभद्र से ब्यूरो चीफ दिनेश उपाध्याय की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.