जिलाधिकारी को इंटक के अध्यक्ष हरदेव नारायण तिवारी ने लिखा पत्र

ओबरा सोनभद्र आदिवासी क्षेत्र ग्राम पंचायत जुगैल,बैरपुर,कुलडुमरी, परसोई,पनारी,मकरीबारी,बेलछ  चिरुई,कनहरा सोनभद्र के मजदूर महाराष्ट्र राजस्थान गुजरात केरल दिल्ली आदि स्थानों में अपनी रोजी रोटी के लिए गए मजदूर वहीं पर  फस गए हैं जिलाधिकारी महोदय सोनभद्र को इंटक के अध्यक्ष हरदेव नारायण तिवारी के माध्यम से  पत्र भेजकर मजदूरों ने अनुरोध किया है कि हम सभी को अपने गांव सोनभद्र में बुलाया जाए महाराष्ट्र में काम करने वाले मजदूरों ने बताया की बहुत ही खराब स्थित में हम सभी रह रहे हैं एक छोटे से कमरे में 10 मजदूर रह कर के काम करते हैं महाराष्ट्र में बीमारी को देखते हुए मजदूर काफी भयभीत हो गया है तिवारी ने अवगत कराया है की महाराष्ट्र में जिला सातारा थाना वाई गरवार कंपनी के 58 मजदूर राजस्थान में जिला अजमेर गांव मायापुर में ट्रांसमिशन लाइन का काम कर रहे 13 मजदूर तथा केरल प्रदेश के कापा सीटी कंपनी इन्फो पार्क काकानड़ा एर्नाकुलम 15 मजदूरों ने जिलाधिकारी महोदय को पत्र दिया है संगठन ने जिलाधिकारी महोदय सोनभद्र को पत्र देते हुए माननीय मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश सरकार को भी पत्र भेजकर अनुरोध किया है की इन मजदूरों को इनके घर लाने की उचित कार्रवाई किया जाए तथा यह भी अवगत कराना है कि अभी महाराष्ट्र गुजरात दिल्ली में बड़े पैमाने पर आदिवासी क्षेत्र के मजदूर फंसे हैं जिला प्रशासन सोनभद्र एवं उत्तर प्रदेश सरकार से अनुरोध है कि इन गरीब मजदूरों को इनके घर यथाशीघ्र लाने की व्यवस्था की जाए जिससे मजदूर राहत की सांस ले सके।
 सोनभद्र से ब्यूरो चीफ दिनेश उपाध्याय की रिपोर्ट