महिला आयोग की सदस्या ने महिलाओं के उत्पीड़न से संबंधित प्रकरणों की की सुनवाई

कौशाम्बी । राज्य महिला आयोग की सदस्या ऊषा रानी ने काशीराम गेस्ट हाउस में महिला उत्पीड़न से संबंधित कुल 10 प्रकरणों की सुनवाई की। उन्होंने सुनवाई के समय पुलिस विभाग के साथ-साथ अन्य संबंधित विभागों के अधिकारियों को भी महिला उत्पीड़न से संबंधित प्रकरणों में संवेदनशीलता बरतते हुए उस पर प्रभावी कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। उन्हेने कहा कि महिला उत्पीड़न से संबंधित मामले की विवेचना त्वरित गति से करते हुए अभियुक्त को दण्ड दिलाने हेतु प्रभावी कार्रवाई किया जाना चाहिये, जिससे कि लोग ऐसे प्रकरणों से सीख लेते हुए महिला उत्पीड़न न करें। महिला उत्पीड़न की सनुवाई में कु0 फरीदा निवासी सालेपुर करारी, थाना करारी, सबा पत्नी मोबीन ग्राम हिसामपुर थाना करारी, सितारा देवी पत्नी शिवकुमार निवासिनी सोनारन का पुरवा थाना मंझनपुर, सरिता देवी पत्नी कैलाश नाथ हिसामपुर परसखी थाना कोखराज, स्वेता मौर्य डिढ़वा उखैया खास थाना कारारी सहित अन्य प्रकरणों पर महिला आयोग की सदस्या ने सुनवाई की और संबंधित विभागों के अधिकारियों को इन प्रकरणों पर शीघ्रता से कार्रवाई करने के निर्देश दिये है। इसी तरह से रीतू त्रिपाठी पुत्री रामानुज त्रिपाठी ग्राम केन पोस्ट कनवार धर्मादेवी इंटर कालेज की छात्रा है, छात्रा के नाम से फर्जी फेसबुक एकाउण्ट चलाये जाने के प्रकरण की सुनवाई करती हुई सदस्या ने पुलिस अधिकारियो को प्रकरण में संलिप्त लोगों के विरूद्ध प्रभावी कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। इस अवसर पर उप चिकित्साधिकारी डा0 छवि जौहरी, क्षेत्राधिकारी मंझनपुर एस एन पाठक, अजीत कुमार संरक्षण अधिकारी, मीनाक्षी प्रभारी महिला समाख्या, महिला थाना प्रभारी, 181 महिला हेल्प लाइन, एवं अन्य संबंधित महिला कल्याण विभाग के अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.