बुआ और बबुआ को गरीबों का दुःख नजर नहीं आता

मऊ: लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के लिए प्रचार अपने चरम पर है। राजनीतिक पार्टियां ताबड़तोड़ रैलियां कर रही हैं। इस कड़ी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के मऊ में एक चुनावी रैली को संबोधित किया। इस दौरान पीएम मोदी ने गठबंधन समेत विपक्ष पर जमकर निशाना साधा।

उन्होंने कहा कि वो महामिलावटी जो महीनेभर पहले तक मोदी हटाओ का राग अलाप रहे थे, वो आज बौखलाए हैं। उनकी पराजय पर देश ने मुहर लगा दी है। उत्तर प्रदेश ने तो इनका सारा गुणा गणित ही बिगाड़ दिया है। पीएम ने कहा कि देश इन महामिलावटी लोगों की सच्चाई पहले दिन से जानता है कि मोदी हटाना तो मात्र एक बहाना था साल में इन्हें अपने भ्रष्टाचार के पाप को छिपाना था।

यह भी पढ़ें…चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और दलाई लामा को लेकर बड़ा खुलासा

प्रधानमंत्री ने कहा कि मोदी हटाओ का नारा तो महामिलावटियों का बहाना था, असल में इन्हें अपने अपने भ्रष्टाचार के पाप को छुपाना था, इसलिए ये कोशिश कर रहे हैं कि देश में जैसे-तैसे खिचड़ी सरकार बन जाए। ये एक मजबूर सरकार चाहते थे, जिसे वो अपनी जरूरत के हिसाब से ब्लैकमेल कर सकें।

पीएम मोदी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में सपा बसपा ने जाति के आधार पर एक अवसरवादी गठबंधन किया। लखनऊ में AC कमरें में बैठकर तो डील हो गयी, लेकिन जमीन से कटे हुए ये नेता अपने कार्यकर्ताओं को भूल गए। जिसका ये नतीजा निकला कि सपा और बसपा के कार्यकर्ता आज भी एक दूसरे पर हमले कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें..समय पूर्व एक्जिट पोल पर सख्‍त चुनाव आयोग, ट्विटर को सभी ट्वीट हटाने का आदेश

पीएम मोदी ने कहा कि इन लोगों के कुछ जातियों को अपना गुलाम समझ लिया था, 2014 में पहली बार समझने और 2017 में दूसरी बार समझाने के बाद उत्तर प्रदेश के लोग 2019 में अच्छे से समझाने जा रहे हैं कि जातियां किसी की गुलाम नहीं हैं।

यह भी पढ़ें..कश्मीर: सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, 3 आतंकी ढेर, 1 जवान शहीद

उन्होंने कहा कि अब बुआ हो या बबुआ हो, इन लोगों ने खुद को गरीबों से इतना दूर कर लिया है, इन्होने अपने आसपास पैसे की, वैभव की और अपने दरबारियों की इतनी बड़ी दीवार खड़ी कर ली है की अब इन्हें गरीबों का दुःख नजर नहीं आता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.