लक्ष्मण झूला पुल को आवागमन के लिए बंद कर दिया गया

देहरादून: देवभूमि उत्तराखंड के ऋषिकेश में गंगा नदी पर बने 96 वर्ष पुराने लक्ष्मण झूला पुल को आवागमन के लिए बंद कर दिया गया है. बताया जा रहा है कि सुरक्षा को ध्यान में देखते हुए आम लोगों के आवागमन को अस्थायी रूप से रोक दिया गया है. दरअसल, लक्ष्मण झूला पुल काफी जीर्णशीर्ण अवस्था में होने के कारण खतरनाक माना जा रहा था और यह एक तरफ झुका हुआ प्रतीत हो रहा है. पुल के अधिकतर हिस्से काफी कमजोर’ हो गए हैं या गिरने की स्थिति में हो गए हैं.

हालांकि यह भी बताया जा रहा है कि मरम्मत के बाद इसे वापस खोला जा सकता है. अतिरिक्त मुख्य सचिव ओम प्रकाश ने बताया है कि विशेषज्ञों की एक टीम के द्वारा की गई जांच के बाद इसे बंद कर दिया गया है. विशेषज्ञों का कहना है कि लक्ष्मण झूला अब और अधिक भार सहन नहीं कर सकता. लक्ष्मण झूला का निर्माण वर्ष 1923 में किया गया था. यह पुल गंगा नदी को दो भागों को जोड़ता है. लक्ष्मण झूला पुल इंजीनियरिंग का एक बेजोड़ नमूना भी है.

गंगा नदी पर बने इस पुल की खूबसूरती देखते ही बनती है. इसे देखने के लिए दूर दूर से लोग से आते हैं.  यह ऋषिकेश की पहचान भी बन चुका है. वहीं लक्ष्मण झूला पुल बंद किए जाने से स्थानीय लोगों को बड़ा झटका लगा है. लोगों का कहना है कि वे इस निर्णय से बहुत हैरान हैं. इसके अलावा वहां जाने वाले पर्यटक भी पुल बंद किए जाने से मायूस हैं.