चंद्रबाबू नायडू को एक और झटका, वर्ल्ड बैंक ने $ 300 मिलियन फंडिंग करने से किया मना

आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू की अमरावती की ड्रीम कैपिटल परियोजना को गुरुवार को झटका लगा क्योंकि विश्व बैंक ने अब इस उद्देश्य के लिए $ 300 मिलियन का फंड ना देने का फैसला किया है। विश्व बैंक की वेबसाइट पर परियोजना की स्थिति ‘Dropped’ दिख रही है। पूर्व सीएम द्वारा मांगे गए ऋण पर, बैंक अमरावती सस्टेनेबल कैपिटल सिटी डेवलपमेंट प्रोजेक्ट के तहत राजधानी में बुनियादी ढांचे के विकास के लिए $ 300 मिलियन उधार देने पर विचार कर रहा था।

राजधानी क्षेत्र किसान महासंघ, और नर्मदा बचाओ आंदोलन, अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय संस्थानों पर कार्य समूह (WGonIFIs), मानवाधिकार मंच, आंध्र प्रदेश, नेशनल अलायंस ऑफ़ पीपुल्स मूवमेंट्स, और सेंटर फॉर फ़ाइनेंशियलबिलिटी के लिए कई गैर सरकारी संगठनों ने तेलुगु देशम पार्टी के इस फैसले का विरोध किया था। टीडीपी ने किसानों से भूमि प्राप्त करके राजधानी बनाने की योजना बनाई थी।

गैर-सरकारी संगठनों की कई याचिकाओं के आधार पर, विश्व बैंक ने इस पर एक निरीक्षण रिपोर्ट मांगी थी कि क्या तत्कालीन आंध्र प्रदेश सरकार ने सभी प्रतिबद्धताओं का सम्मान किया था और क्या राजधानी शहर के निर्माण ने सभी नियमों और विनियमों का पालन किया था। इस वर्ष जनवरी में निरीक्षण रिपोर्ट प्रस्तुत की गई थी। लगभग 50 बिंदुओं पर निरीक्षण किया गया था लेकिन रिपोर्ट सार्वजनिक नहीं की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.