देश में वाहनों की बिक्री घटी, ये है बड़ा कारण

अर्थव्यवस्था में आई सुस्ती की मार देश के वाहन उधोग पर पड़ी है। इसने हर तरह के वाहन उधोग को प्रभावित किया है। वाहन डीलरों के संगठन फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन (फाडा) के मुताबिक कैश की कमी और मानसून में हो रही देरी से जून में यात्री वाहनों की खुदरा बिक्री 4.6 प्रतिशत घटकर 2,24,755 इकाइयों पर रही। फाडा के मुताबिक जून, 2018 में 2,35,539 यात्री वाहनों की बिक्री हुई थी।
वहीं दोपहिया वाहनों की बिक्री भी पिछले महीने पांच प्रतिशत की गिरावट के साथ 13,24,822 इकाइयों पर रही। यह आंकड़ा पिछले साल जून में 13,94,770 इकाइयों पर रहा था। संगठन के अनुसार, वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री 19.3 प्रतिशत की भारी गिरावट के साथ 48,752 इकाइयों पर रही, जो पिछले साल इसी महीने में 60,378 इकाइयों पर रही थी।
फेडरेशन के आंकड़ों के मुताबिक, तिपहिया वाहनों की बिक्री 2.8 फीसदी की कमी के साथ 48,447 वाहनों पर रही। यह आंकड़ा 2018 के जून में 49,837 वाहनों पर रहा था। फाडा के अनुसार सभी श्रेणियों में वाहनों की बिक्री का आंकड़ा 5.4 प्रतिशत घटकर 16,46,776 इकाइयों पर रहा है।