छत्तीसगढ़ : क्यों मजदूरों की आवाजाही पर सरकार ने लगाई रोक ?

भारत के राज्य छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य में मजदूरों की आवाजाही पर रोक लगाने का निर्देश दिया है. दिल्ली की घटना को देखते हुए यह निर्देश दिए गए है. इसके लिए यहां रह रहे दूसरे राज्यों के मजदूरों के रहने और खाने की व्यवस्था करने के निर्देश दिए गए हैं. वहीं दूसरे राज्यों से आने वाले छत्तीसगढ़ के मजदूरों के लिए राज्य की सीमा पर ही रहने और खाने की व्यवस्था की जाएगी.

शनिवार को विशेष विमान से कोरोना जांच किट उपलब्ध कराए जाने के बाद राज्य में जांच की संख्या बढ़ेगी. स्वास्थ्य मंत्री टीएसस सिंहदेव ने कहा कि अब रोजाना 1000 लोगों की जांच की जाएगी. अब तक जांच की रफ्तार काफी सुस्त थी, जिसके कारण मरीजों की संख्या कम नजर आ रही है. बताया जा रहा है कि जांच में तेजी आने पर कुछ नए इलाकों में मरीज मिल सकते हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि धुर नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा के पुलिस अधीक्षक डॉ अभिषेक पल्लव खुद एमडी डिग्रीधारक डॉक्टर हैं. नक्सल मोर्चे पर वे एक हाथ में एके 47 और दूसरे हाथ में दवाओं का थैला लेकर चलते हैं. इसकी खूब चर्चा होती रही है. अब कोरोना का संकट आया तो भी एसपी अपनी जिम्मेदारी दोहरे मोर्चे पर थामे हुए हैं. वह सुदूर नक्सली इलाकों के फोर्स के कैंपों तक पहुंच रहे हैं. जवानों की हौसलाअफजाई के साथ ही उनका और ग्रामीणों का हेल्थ चेकअप कर रहे हैं. उन्हें कोरोना के प्रति जागरूक भी कर रहे हैं. प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने की दवाएं भी दे रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.