वित्त मंत्री थॉमस शाफर ने की खुदकुशी

दुनिया के ताकतवर देशों में शामिल जर्मनी के हेसे राज्य के वित्त मंत्री थॉमस शाफर ने कोरोना वायरस से देश की अर्थव्यवस्था को हो रहे नुकसान से चिंतित होकर खुदकुशी कर ली. वह इस बात से अंदर ही अंदर घुट रहे थे कि कोरोना से देश की अर्थव्यवस्था को जो नुकसान हो रहा है, उससे कैसे निपटा जाएगा.

शनिवार को शाफर (54) को रेलवे ट्रैक के नजदीक मृत पाया गया था. माना जा रहा है कि उन्होंने खुदकुशी कर ली. प्रीमियर वोल्कर अपने कैबिनेट सहयोगी की मौत से बेहद दुखी हैं. उन्होंने कहा, ‘हम बेहद हैरान हैं, हमें यकीन नहीं हो रहा है और हम बेहद बेहद दुखी है.’ हेसे में फ्रैंकफर्ट मौजूद है जहां बड़े वित्तीय बैंक ड्यूस और कॉमर्जबैंक के हेडक्वॉर्टर्स मौजूद हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि यूरोपीय सेंट्रल बैंक भी फ्रैंकफर्ट में मौजूद है. प्रीमियर वोल्कर जब यह संदेश जारी कर रहे थे तो उनके चेहरे पर दुख साफ झलक रहा था. शाफर वोल्कर के 10 साल से वित्तीय सहयोगी थे. वह कोरोना वायरस के कारण अर्थव्यवस्था को हुए नुकसान से लड़ने के लिए दिनरात काम कर रहे थे और कंपनियों और कामगारों की मदद कर रहे थे.वही, वोल्कर ने कहा, ‘हमें आज यह मानना पड़ेगा कि वह बेहद दुखी थे. यह निश्चित रूप से बेहद कठिन वक्त है जब हमें उनकी बेहद जरूरत थी.’ माना जा रहा था कि वोल्कर के बाद शाफर ही अगले प्रीमियर होते. वोल्कर की तरह शाफर भी चांसलर ऐंगला मर्केल की सेंटर राइट सीडीयू पार्टी के सदस्य थे. उनके परिवार में पत्नी के अलावा दो बच्चे हैं.