राष्‍ट्रपति ट्रंप ने पत्रकारों से वार्ता करते हुए कोरोना वायरस का चीनी वायरस का नाम दिया

वाशिंगटन: एकाएक बढ़ा ही जा रहा कोरोना का प्रकोप आज पूरी दुनिया के लिए महामारी का रूप लेता रहा है. वही  इस वायरस की चपेट में आने से अब तक 88000 से अधिक मौते हो चुकी है. लेकिन अब भी यह मौत का खेल थमा नहीं है. इस वायरस ने आज पूरी दुनिया को हिला कर रख दिया है. कई देशों के अस्पतालों में बेड भी नहीं बचे है तो कही खुद डॉ. इस वायरस का शिकार बनते जा रहें है. वहीं कोविड 19 को चीनी वायरस बताने वाले अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के सुरों में चीन को लेकर दिखाई देने वाली आक्रामकता अब अचानक खत्‍म हो गई है. चीन के राष्‍ट्रपति शी चिनफिंग के साथ बात करने के बाद यह परिवर्तन दिखाई दिया है. इसके बाद सेक्रेट्री ऑफ स्‍टेट माइक पोंपेइ ने कहा कि कोरोना वायरस की समस्‍या वैश्विक समस्‍या है. इस वक्‍त जरूरत है कि सभी देश एक साथ मिलकर इसको खत्‍म करने के लिए काम करें. उन्‍होंने ये बयान चीन के संदर्भ में पूछे गए एक सवाल के जवाब में दिया था.

मिली जानकारी के अनुसार मार्च को राष्‍ट्रपति ट्रंप ने पत्रकारों से वार्ता करते हुए कोरोना वायरस का चीनी वायरस का नाम दिया था. उन्‍होंने कहा था कि चीन ने इसको पूरी दुनिया में फैलाने का काम किया है. इसके बाद चीन ने भी जवाबी हमला बोला था. ये सिलसिला लगातार काफी दिनों तक चलता रहा था. इतना ही नहीं जब चीन के पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्‍यूपमेंट में कमी की बात कहकर उनको वापस किया जाने लगा तब भी चीन ने इसको लेकर अमेरिका पर उसके खिलाफ साजिश रचने का आरोप लगाया था. जहां तक ट्रंप की बात है तो वो जो शब्‍द अपने बयानों में इस्‍तेमाल करते हैं उसको अब पूरी दुनिया जान चुकी है. चीनी वायरस का जिक्र उन्‍होंने केवल एक बार नहीं बल्कि कई बार किया था. लेकिन फिलहाल अब दोनों ही नेता इसको तूल नहीं देना चाहते हैं.

 

गौरतलब है कि इस वायरस को लेकर जहां अमेरिका ने चीन पर आरोप लगाया था वहीं चीन ने भी अमेरिका पर दोषारोपण किया था. चीन की तरफ से कहा गया था कि अमेरिका ने साजिश के तौर पर इस वायरस को चीन के वुहान में फैलाया था. एएफपी के मुताबिक अमेरिका में मौजूद चीन के राजदूत क्‍यूई तियानकई का इस संबंध में दिया गया बयान बेहद राजनीतिक था. उन्‍होंने विदेशी मीडिया से बातचीत के दौरान चीन के अमेरिका के प्रति प्रेम की बात की और कहा कि चीन अमेरिका के हित के लिए हर संभव कोशिश करेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.