सोनिया गांधी ने केंद्रीय मंत्रिमंडल के फैसले का समर्थन किया

भारत में जारी लॉकडाउन के बीच कांग्रेस अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी 11 अप्रैल को COVID-19 संकट से संबंधित राहत कार्यों पर चर्चा करने के लिए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी प्रदेश कांग्रेस कमेटियों (पीसीसी) के अध्यक्षों के साथ बातचीत करेंगी.

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा था. इस पत्र में सोनिया गांधी ने केंद्रीय मंत्रिमंडल के फैसले का समर्थन किया था, जिसमें सांसदों के वेतन में 30 फीसद की कमी करने का फैसला लिया गया है. सोनिया गांधी ने इस पत्र में लिखा है- ‘ यह एक सराहनीय कदम है. इस पैसे का उपयोग कोविद -19 के खिलाफ लड़ाई के लिए बहुत आवश्यक है. यह समय की आवश्यकता है.

  1. अगर आपको नही पता तो बता दे कि सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 21 दिनों के राष्ट्रीय लॉकडाउन का समर्थन किया था. उन्होंने लॉकडाउन को कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में जरूरी बताया था. उन्होंने कहा था कि कांग्रेस के अध्यक्ष के रूप में, मैं यह बताना चाहूंगी कि हम महामारी की रोकथाम सुनिश्चित करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा उठाए गए हर कदम का समर्थन और सहयोग करेंगे. उन्होंने आगे कहा कि इस चुनौतीपूर्ण और अनिश्चित समय में, हममें से प्रत्येक के लिए यह आवश्यक है कि हम पक्षपातपूर्ण हितों से ऊपर उठें और अपने देश के प्रति और वास्तव में मानवता के प्रति अपने कर्तव्य का सम्मान करें.