शिवराज सिंह चौहान के कैबिनेट का मंगलवार को गठन हो गया।

भोपाल: मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान के कैबिनेट का मंगलवार को गठन हो गया। राजभवन में हुए 13 मिनट के शपथ ग्रहण समारोह में 5 मंत्रियों ने शपथ ग्रहण की। भाजपा के वरिष्ठ विधायक नरोत्तम मिश्रा, कमल पटेल और मीना सिंह मंत्री बनाए गए। वहीं, ज्योतिरादित्य सिंधिया खेमे से तुलसी सिलावट और गोविंद सिंह राजपूत को मंत्री पद दिया गया।

शपथ लेने वाले पांचों नेता पहले भी शिवराज और कमलनाथ सरकार में मंत्री पद संभल चुके हैं। कमलनाथ सरकार में सिलावट स्वास्थ्य मंत्री थे और गोविंद सिंह राजपूत राजस्व और परिवहन मंत्रालय संभाल रहे थे। शिवराज की पिछली सरकार में नरोत्तम मिश्रा जनसंपर्क मंत्री और कमल पटेल चिकित्सा शिक्षा मंत्री पद पर थे। मीना सिंह महिला और बाल विकास राज्य मंत्रालय संभाल चुकी हैं। शिवराज के नई मंत्रिमंडल में सिलावट सबसे उम्रदराज होने के साथ ही सबसे अमीर मंत्री भी हैं। 65 वर्षीय सिलावट के पास 8.26 करोड़ रुपए की संपत्ति है। वहीं, कैबिनेट की सबसे युवा मंत्री 48 वर्षीय मीना सिंह हैं, जिनकी लगभग 1.67 करोड़ की संपत्ति है।

  1. भाजपा के वरिष्ठ विधायकों गोपाल भार्गव, भूपेंद्र सिंह, गौरीशंकर बिसेन, विजय शाह, यशोधरा राजे सिंधिया, राजेंद्र शुक्ला और रामपाल सिंह को अभी  कैबिनेट में स्थान नहीं मिला है। वहीं, कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए बिसाहूलाल सिंह, महेंद्र सिंह सिसोदिया और प्रभुराम चौधरी को भी अभी होल्ड पर रखा गया है।